spot_img
HometrendingBagh Ka Movement - दो बाघों की चहलकदमी से दहशत, वन विभाग...

Bagh Ka Movement – दो बाघों की चहलकदमी से दहशत, वन विभाग ने बढ़ाई गस्त  

Bagh Ka Movementइन दिनों बैतूल शहर में दो बाघों की दहशत से हड़कंप मचा हुआ है ग्रामीणों में भी डर का माहौल है। दरअसल शहर से 3 किमी की दुरी पर बाघ की चहलकदमी की पुष्टि हुई है। वन विभाग द्वारा लगाए गए कैमरों में बाघ की फोटो कैप्चर हुई है। जिसके बाद अब गस्त बढ़ा दी गई है। वन विभाग के द्वारा आस पास के इलाके में रहने वाले ग्रामीणों को सतर्क रहते हुए सावधानी बरतने की हिदायत  दी है। बैतूल के पास अब 2 बाघ चहलकदमी कर रहे हैं। इनमें एक बाघिन है। 

Bagh Ka Movement – दो बाघों की चहलकदमी से दहशत

बैतूल की करीबी जंगल में बाघ होने जानकारी मिलने के बाद वन विभाग ने इस इलाके में बाघ की खोज खबर तेज कर दी थी। जंगल में कैमरे भी लगाए गए थे। इस कैमरे में बाघ की तस्वीर कैद हुई है। जिसके बाद उसके यहां होने की पुष्टि हो गई है। बता दें, यह बाघ जून में भी इस इलाके में आ चुका है। अब यह दूसरी बार यहां पहुंचा है। जिसकी मॉनिटरिंग की जा रही है। बैतूल रेंजर अमित शर्मा के मुताबिक फिलहाल 2 दिन से लोकेशन नहीं मिली है। शायद वह जंगल चला गया है। परसों कैमरे में उसकी फोटो आई थी।

जंगल में पाए गए बाघ के पंजो के निशान(Bagh Ka Movement

इसे लेकर उसके जिन इलाकों में होने की संभावनाएं हैं। वहां गस्ती कराई जा रही है। जबकि, बाघ के पग मार्क फॉलो कराए जा रहे हैं। पेड़ों पर उसके खरोंच के निशान देखे जा रहे हैं। बाघ को कड़ी निगरानी में रखा गया है। उन्होंने बताया कि यह बाघ पिछले जून में भी यहां आया था। उस समय भी इसी बाघ के पगमार्क मिले थे अब यह दूसरी बार आया है। नवंबर-दिसंबर में बाघों के मेंटिंग का समय होता है।

Source Internet 

RELATED ARTICLES

Most Popular