ग्वालियर। पड़ोसियों ने जबरदस्ती रंग लगाया तो खुद को बेइज्जत महसूस कर नविवाहिता ने केरोसिन डालकर आग लगा ली। घटना 21 मार्च होली के दिन की है। महिला को गंभीर हालत में जेएएच में भर्ती कराया गया था। जहां उसने गुरुवार सुबह दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर मर्ग कायम कर लिया है।

पुरानी छावनी थानाक्षेत्र स्थित मोतीझील श्रीवास का पुरा निवासी लक्ष्मी (20) पत्नी बृजेश श्रीवास की एक साल। पड़ोसियों ने जबरदस्ती लगाया रंग तो नवविवाहिता ने लगाई आग, मौत पहले ही शादी हुई। उनके घर के पास ही मनोज नाम की महिला रहती है। 21 मार्च को होली के दिन मनोज लक्ष्मी को रंग लगाने आई थी। उसके साथ उसके परिजन जंडेल, मोनू व अजय भी थे। मनोज की आड़ में इन लोगों ने नवविवाहिता को जबरदस्ती रंग लगा दिया। इस दौरान उसके शरीर पर छुआ। जिसका उसे बहुत बुरा लगा। जिसके बाद वह अपने कमरे में चली गई और उसने कैरोसिन डालकर खुद को आग लगा ली।
आग की लपटों में घिरी लक्ष्मी को उसके पति व परिवार के अन्य सदस्यां ने बचाया और अस्पताल पहुंचाया। जहां करीब 14 दिन बाद गुरुवार सुबह इलाज के दौरान लक्ष्मी ने दम तोड़ दिया। अस्पताल की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचीं। पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया है। साथ ही मर्ग कायम कर लिया है।