हिसार. कोरोना लगातार जिंदगियां छीनता जा रहा है. इस पर प्रशासन को ही बड़ी क्षति हुई है. उपायुक्त (DC) डा. प्रिंयका सोनी के पीए कैमरी रोड स्थित अमरदीप कॉलोनी निवासी श्रीराम शर्मा की रविवार देर रात्रि कोरोना के कारण मृत्यु हो गई. वह पिछले 15 दिनों से शरीर में विभिन्न समस्याओं को लेकर अस्पताल में उपचाराधीन थे. श्रीराम मुख्य रूप से एसडीएम कार्यालय (SDM office) में डिप्टी सुपरिटेंडेंट के पद पर कार्यरत थे. करीब एक माह पहले ही उन्हें उपायुक्त के पीए का चार्ज भी दिया गया था. ऐसे में चार्ज मिलने के कुछ दिन के बाद ही उन्हें शारीरिक रूप से दिक्कत होने लगी. पहले किडनी की समस्या होने लगी.

किडनी में थी समस्या

धीमे-धीमे किडनी ने काम करना बंद कर दिया. इस दौरान उनका उपचार अलग-अलग अस्पतालों में चला. फिर शुगर बढ़ने के कारण उन्हें दिक्कत होने लगी. इसी बीच वह कोरोना संक्रमित भी हो गए. शरीर में कई समस्याओं बीच घिरकर जूझते रहे. इसके बाद शनिवार को उन्हें आधार अस्पताल में वेंटीलेटर पर शिफ्ट कर दिया गया. हालात बिगड़ते गए और रविवार देर रात्रि को उन्होंने दम तोड़ दिया. उनके भाई सुरेश शर्मा बताते हैं कि वह अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़कर गए हैं. घर में बेटा, एक बेटी अभी पढ़ाई कर हे हैं तो परिवार के अन्य सदस्य भी अभी इस क्षति से सदमे में हैं. इस घटना के बाद प्रशासनिक अमले में शोक की लहर है,

कोरोना के 527 नए मामले आने से 2779 हुई सक्रिय मरीजों की संख्या 

जिले में कोरोना संक्रमण के 527 नए मामले सामने आने से कुल सक्रिय संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2779 हो गई है. जिले में कोरोना संक्रमितों की मृत्यु का आंकड़ा भी बढक़र 355 हो गया है. अभी तक 4 लाख 18 हजार 98 लोगों की सैंपलिंग की जा चुकी है, जिनमें से कोरोना संक्रमण के 21 हजार 76 केस आ चुके हैं. इनमें से 17 हजार 942 संक्रमित रिकवर हुए हैं। जिले का रिकवरी रेट 85.13 पर है.

थोड़ी भी लापरवाही न करें नागरिक

उपायुक्त डा. प्रियंका सोनी ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि जिले में कोरोना का स्वरूप लगातार बिगड़ रहा है, इसलिए सभी जिलावासी स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी विभिन्न दिशा-निर्देशों का पालन करें. केवल जरूरी कार्यों के लिए ही घर से बाहर निकलें और घर से बाहर निकलते समय मास्क और शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखें.