ग्वालियर।  अप्रैल माह के अंत मे पड रही भीषण गर्मी के कारण अब जनजीवन प्रभावित होने लगा है। तेज गर्मी के कारण एसी कूलर भी हांफने लगे है। कूलर भी ६ घंटे में पानी मांगने लगे है। 
 रविवार को अधिकतम तापमान उछलकर ४३ डिग्री सेल्सियस के पार दर्ज किया गया। दिन में निकली शरीर झुलसाने वाली  धूप ने लोगों को बेहाल कर दिया। सुबह १० बजे से ही गर्म हवाएं चलने लगी थी। जिसके कारण रविवार को अवकाश का दिन होने के कारण गर्मी से बचने के लिए लोग पूरे दिन घरों मे कैद रहे। 
मौसम विभाग के अनुसार मध्य भारत में ०.९ किमी व उससे ऊपर तक विपरीत हवा का चक्रवात बना हुआ है। यह गर्म हवा बाहर की ओर फेंक रहा है। अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से आने वाली नमी दक्षिण भारत तक सिमटकर रह गई है। तेज गर्मी के कारणा दोपहर के समय बाजार भी खाली नजर आने लगे है। दोपहर के समय पडकों को आवाजाही कम हो गई है।शाम को ७ बजे के बाद भी गर्म हवाएं पीछा नहीं छोंड रही है। रात को भी गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। और सुबह दिन चढने के साथ ही भगवान भास्कार अपना तेज दिखाने लगते है।