नई दिल्ली । चेन्नई टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। शनिवार के स्कोर में टीम इंडिया के बल्लेबाज सिर्फ 29 रन ही और जोड़ पाए। पूरी टीम 329 रनों पर ही आल आउट हो गई। टीम इंडिया की तरफ से रोहित शर्मा ने सबसे अधिक 231 गेंदों पर 161 रन बनाए। उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने उनका अच्छा साथ दिया। पहले टेस्ट मैच में असफल रहने वाले रहाणे 67 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली। 
ऋषभ पंत भारत की तरफ से तीसरे बल्लेबाज थे, जिन्होंने 50 से अधिक रन बनाए। पंत 58 रन बनाकर नाटआउट रहे। रहाणे के प्रदर्शन को लेकर सुनील गावस्कर ने बड़ी बात कही। उन्होंने कहा वह एक ऐसे बल्लेबाज हैं, जो मुश्किल समय में टीम इंडिया के लिए महत्वपूर्ण हो जाते हैं। सुनील गावस्कर ने कहा दूसरे मैच में रहाणे जिस तरह आउट हुए, अगर आप देखें तो उनका हाथ ऑफ स्टंप के अधिक बाहर था। इसलिए वह गेंद को समझ नहीं पाए। अगर आप दूसरे तरफ से देखें तो तो सर सीधा था, इसके कारण भी समझने में समस्या हुई। 
उन्होंने कहा कि वह एक बल्लेबाज हैं, जो अपनी गलतियों से सीखते हैं। वह एक ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके ऊपर मुश्किल दौर में विश्वास किया जा सकता है। वह मुश्किल पिचों पर रन बनाने में माहिर हैं। अजिंक्य रहाणे पहले टेस्ट मैच में जिस तरह से आउट हुए थे, उसको लेकर काफी आलोचना हुई थी। इंग्लैंड की पहली पारी में शुरुआत अच्छी नहीं रही। रोरी बर्न्स बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। टीम इंडिया चार मैचों की सीरीज में 0-1 से पीछे है। ऐसे में टीम इंडिया की कोशिश होगी कि यह मैच जीतने की। वर्ल्ड चैंपियनशिप के दृष्टिकोण से  भी यह मैच भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण है।