बैतूल (सांध्य दैनिक खबरवाणी)-आजादी के अमृत महोत्सव एवं एड्स जागरूकता सप्ताह अंतर्गत शासकीय महाविद्यालय घोड़ाडोंगरी में राष्ट्रीय योजना प्रकोष्ठ द्वारा कार्यक्रम अधिकारी प्रो हेमन्त निरापुरे के नेतृत्व एवं महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ देवीसिंह सिसोदिया के मार्गदर्शन में महाविद्यालय के छात्रों को " नदी जानो एवं नदी संरक्षण" के महत्व पर जागरूक करने के लिए पिपरी न नदी का भ्रमण करवाया गया इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ देवीसिंह सिसोदिया द्वारा प्रदेश की ताप्ती, नर्मदा, बेतवा नदियों के आध्यात्मिक महत्व को बताया गया, वही वनस्पति शास्त्र के प्राध्यापक प्रोफेसर कौशल किशोर कुशवाहा द्वारा नदी के जैवकीय महत्व को बताते हुए जलीय जीव एवं नदी संरक्षण के उपाय की छात्रों को जानकारी दी साथ ही एड्स जागरूकता सप्ताह अंतर्गत एड्स बीमारी के लक्षणों एवं इसके उपाय की जानकारी भी प्रदान की गई। 

रसायन विज्ञान के प्राध्यापक डॉ दामोदर झाड़े द्वारा छात्रों को पानी के रासायनिक संगठन की जानकारी प्रदान की गई, कार्यक्रम अधिकारी प्रो हेमंत निरापुरे द्वारा नदियों की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि धरती पर जीवन को अनवरत रूप से चलाए रखने के लिए नदियों का कल कल करते हुए निरंतर बहना जरूरी है,  वहीं एड्स से बचाव  विषय पर चर्चा करते हुए प्रो राकेश सिसोदिया एवं डॉ मगरदे द्वारा छात्रों को बताया कि एड्स बीमारी का ज्ञान ही हमें हमारी जान का बचाव करने में सहायक हो सकता है इसलिए इसे गंभीरता से लें इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ  साहेबराव झरबड़े, प्रो राकेश सिसोदिया , डॉ यासमीन जिया, डॉ अनामिका वर्मा, प्रो भूपेंद्र पाटणकर, डॉ देवकृष्ण मगरदे, प्रो महाजन, रत्नेश जैन, पीयूष राठौर सहित  छात्र-छात्राएं एवं स्टाफ नदी भ्रमण के दौरान मौजूद रहा l